Jet Airways के संस्थापक Naresh Goyal ने 538 करोड़ की धोखाधड़ी को लेकर क्या कहा

Jet Airways के मालिक Naresh Goyal केनरा बैंक में 538 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी का आरोप है। प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने इस धोखाधड़ी के चलते सितंबर 2023 में Naresh Goyal को गिरफ्तार किया, जो फिल्हाल मुंबई की आर्थर रोड जेल में बंद है।

Naresh Goyal, jet airways

विशेष न्यायालय के समक्ष याचिका:
Naresh Goyal ने विशेष न्यायाधीश एम जी देशपांडे के समक्ष “हाथ जोड़कर” विनती की और निराशा की भावना व्यक्त करते हुए उन्होंने सुझाव दिया कि “बेहतर होगा कि वह जेल में ही मर जाएं।”

स्वास्थ्य और व्यक्तिगत स्थिति:
Naresh Goyal ने कहा कि उनका स्वास्थ्य “बहुत खराब और अनिश्चित” है। उन्होंने अपनी पत्नी, अनीता और अपनी अस्वस्थ बेटी की गंभीर स्वास्थ्य स्थितियों पर प्रकाश डाला। अनीता कैंसर की एडवांस स्टेज में हैं और उनका इलाज चल रहा है। Naresh Goyal ने घुटनों में सूजन और दर्द जैसी समस्याओं के बारे में बताया, जिससे उनके पैरों को मोड़ना मुश्किल हो जाता है।

जमानत आवेदन और व्यक्तिगत सुनवाई:
Naresh Goyal ने कोर्ट में जमानत अर्जी पेश की. उन्होंने कुछ मिनटों की व्यक्तिगत सुनवाई का अनुरोध किया, जिसे न्यायाधीश ने मंजूर कर लिया।
हालाँकि इस बार उन्होंने शारीरिक उपस्थिति पर जोर दिया, लेकिन उन्होंने उल्लेख किया कि वह आगे इस पर जोर नहीं देंगे।

हताशा और स्वास्थ्य स्थितियाँ:
निराशा व्यक्त करते हुए, Naresh Goyal ने कहा कि उन्होंने “जीवन की हर उम्मीद खो दी है” और वर्तमान परिस्थितियों पर मृत्यु को प्राथमिकता देते हैं। उन्होंने अस्पताल में लंबी कतारों के कारण समय पर डॉक्टर तक पहुंचने में होने वाली कठिनाइयों का उल्लेख किया। Naresh Goyal ने बताया कि उनकी स्वास्थ्य स्थिति उन्हें व्यक्तिगत रूप से अदालत में उपस्थित होने से रोकती है।

अस्पताल स्थानांतरण पर जेल प्रवास:
Naresh Goyal ने “जेल में मरने” की प्राथमिकता व्यक्त करते हुए जे जे अस्पताल न भेजे जाने का अनुरोध किया। उन्होंने अपनी प्राथमिकता के कारणों के रूप में परेशानी भरी यात्राओं और फॉलो-अप का हवाला दिया।

न्यायाधीश का आश्वासन:
जज ने Naresh Goyal के कांपते शरीर को देखा और उन्हें आश्वासन दिया कि उन्हें असहाय नहीं छोड़ा जाएगा। न्यायाधीश ने वादा किया कि गोयल के मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य के लिए उचित उपचार के साथ हर संभव देखभाल प्रदान की जाएगी। Naresh Goyal के वकीलों को उनके स्वास्थ्य को लेकर उचित कदम उठाने का निर्देश दिया गया ।

जमानत याचिका और अगली सुनवाई:

पिछले साल दिसंबर में दायर की गई Naresh Goyal की जमानत याचिका में कई स्वास्थ्य स्थितियों का हवाला दिया गया था। उन्होंने दावा किया कि यह मानने के उचित आधार हैं कि वह दोषी नहीं हैं। जमानत याचिका विशेष न्यायाधीश एम जी देशपांडे के समक्ष लंबित है, जिसकी अगली सुनवाई 16 जनवरी को होनी है।

मामले की पृष्ठभूमि:

नरेश गोयल, उनकी पत्नी और Jet Airways के पूर्व अधिकारियों के खिलाफ ईडी का मामला सीबीआई की एफआईआर पर आधारित है, जिसमें केनरा बैंक में 538 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी का आरोप लगाया गया है।

Leave a comment