बिहार की राजनीति में फिर एक ट्विस्ट: Nitish Kumar 9वि बार बने मुख्यमंत्री

Nitish Kumar अपने इस 5 वर्ष के कार्येकाल में 4 बार मुख्यमंत्री बने। Nitish Kumar ने रविवार को अपने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफ़ा देके राज्य में महागठबंधन से नाता तोड़ पूरे राज्य की राजनीति को हिला दिया।
उन्होंने भाजपा के नेतृत्व वाले एनडीए गठबंधन में शामिल होने की संभावना दिखाई।
Nitish Kumar इस बार बिहार के 9 वि बार मुख्यमंत्री बन कर नया रिकॉर्ड बनायेंगे।
जेडी(यू), बीजेपी, हम, और स्वतंत्र विधायक, राज्यपाल राजेंद्र अर्लेकर से मुलाकात कर कर सरकार बनाने का दावा करा।

nitish kumar, जेडी(यू), बीजेपी, हम,जेडी(यू), बिहार

Nitish Kumar जिस महागठबंधन में 18 महीने पहले शामिल हुए थे उसे त्यागा और विपक्षी दलों को एक ज़ोरदार झटका दिया।
राजनीतिक दल के सलाहकार एवं प्रवक्ता के.सी त्यागी ने कहा की सरकार गिरने की कगार पर है, और उन्होंने नीतीश पर कांग्रेस को अपमानित करने का आरोप भी लगाया।
उन्होंने कहा इंडिया ब्लॉक टूटने की कगार पर है, पंजाब, पश्चिम बंगाल और बिहार में इंडिया ब्लॉक पार्टियो का गठबंधन लगभग ख़त्म हो गया है ।

राजनीतिक सलाहकार प्रशांत किशोर ने Nitish Kumar की आलोचना करते हुए उन्हें धोकेबाज़ बताया और बीजेपी के साथ अल्पकालीन गठबंधन की घोषणा की।
लालू प्रसाद यादव की बेटी ने Nitish Kumar की सोशल मीडिया पर निंदा करी जो राजनीतिक तनाव को दर्शाता है।
जेडी (यू) ने इंडिया ब्लॉक के पतन के लिए कांग्रेस को ज़िमेदार ठहराया, उनपर नियंत्रण चाहने और अखंडता को कमजोर करने का आरोप भी लगाया।
आज श्याम 5 बजे Nitish Kumar और बी जे पी के संभावित उप मुख्यमंत्री के शापत लेने की उम्मीद है।
आर जे डे, टी एम सी, और कांग्रेस जैसी पार्टियो ने इस फेसले की आलोचना की।

भाजपा ने Nitish Kumar के इस फिसले का सम्मान करते हुए उनका स्वागत करा वही दूसरी ओर विपक्षी दलों ने उनके इस फिसले की आलोचना करते हुए उनके इरादों पर सवाल उठाये।

Leave a comment